logo

ऐसे सजाएं अपना ड्राइंग रूम

डेकोरेशन के लिहाज से ड्राइंग रूम घर का वह हिस्सा माना जा सकता है कि जिस पर सबसे ज्यादा खर्च किया जाता है। फिर चाहे बात आर्टीफेक्ट्स की हो या फिर फर्नीचर की। बावजूद महंगे खर्च के कई बार ऐसा भी होता है ड्राइंग रूम वह रंगत नहीं लेे पाता जिसकी आपने कल्पना की होती है। ऐसे में घर के इस हिस्से को डेकोरेट करने के लिए सिर्फ सजावटी समान और फर्नीचर ही नहीं बल्कि कई दूसरी चीजों का ध्यान रखना भी जरूरी है।


कलर


घर का इंटीरियर हो या फिर एक्सटीरियर, दीवारों के रंग कैसे हैं इसका घर की साज-सज्जा पर गहरा प्रभाव पड़ता है। ड्रांइग रूम के लिए आम तौर पर हल्के रंग बेहतर माने जाते हैं। ऐसे रंगों के इस्तेमाल से छोटा स्पेस भी बड़ा दिखाई पड़ता है। आप चाहें तो ड्राइंग रूम की दीवारों के लिए मिक्स एंड मैच कलर्स का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। जिसके तहत कमरे की तीन दीवारों पर एक जैसे जबकि चौथी दीवार पर उसी से मिलते हुए किसी अन्य रंग का इस्तेमाल किया जाता है।


फ्लोरिंग


नए जमाने में, जैसे-जैसे घर की सजावट को नए रंग में रंगने का चलन फैला है, उसी रफ्तार से बाजार में फ्लोरिंग के विकल्प भी बढ़े हैं। मौजाइक और मारबल फ्लोरिंग भी अब बीते जमाने की बात हो समझी जाने लगी है। कुछ नया और आकर्षक करने के लिए आप सिरेमिक या विट्रीफाइड टाइल्स के अलावा वुडन फ्लोर का विकल्प चुन सकते हैं। खास बात यह है कि ये दोनों फ्लोर मेंटीनेंस फ्री होते हैं। इन्हें किसी तरह की पॉलिश की जरूरत नहीं होती और सालों-साल साथ निभाते हैं।


परदे


परदों के जरिये ड्राइंग रूम को टे्रडिशनल और आर्टिस्टिक लुक दिया जा सकता है। वैसे पिछले कुछ सालों से परदों के इस्तेमाल में कमी है और इनकी जगह अब ब्लाइंड्स ने ले ली है। फिर भी सतरंगी रंगों से सजे कॉटन के परदे अगर आपके घर की खिड़कियों और दरवाजों पर टंगे हों तो कमरे सजावट निखर जाती है। हां, परदों का चयन करते हुए फर्नीचर और दीवार के रंगों का तालमेल न भूलें।


कारपेट


कमरे को टे्रडिशनल लुक देने के लिए कारपेट एक बेहतरीन ऑप्शन माना जाता है। बाजारों में कारपेट्स की बड़ी वेरायटी मौजूद है। घर में अगर छोटे बच्चे हों तो ऐसे कारपेट्स लें जिन पर फिसलन न हो। अब ऐसे कारपेट भी मिलने लगे हैं जिन पर धूल मिट्टïी नहीं चिपकती।


लाइटिंग


लाइटिंग एक कला है। ड्राइंग रूम में मद्धिम और भारी दोनों तरह की रोशनी का प्रबंध जरूरी है। इसके अलावा अगर आप कोई महंगी पेंटिंग या फोटोग्राफ लगा रहे हैं तो उस पर फोकस लाइट का इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐसे प्रयोग कमरे को आर्टिस्टिक लुक देते हैं। कमरे की प्रकाश व्यवस्था को बढ़ाने के लिए झूमर का इस्तेमाल किया जा सकता है।


फर्नीचर


फर्नीचर की बड़ी रेंज बाजार में मौजूद है। केन, रॉट आयरन, वुडन अपनी पसंद के अनुसार आप कुछ भी चुन सकते हैं। इन्हें चुनते वक्त कमरे के स्पेस का ध्यान रखें। अगर रूम छोटा हो तो ऐसे में फोल्डिंग फर्नीचर को पसंद करें। वक्त और जरूरत के मुताबिक ऐेसे फर्नीचरों को कई तरह से इस्तेमाल में लाया जा सकता है।


इन चीजों को ध्यान में रखते हुए अगर आप भी आने ड्राइंग रूम को सजाते हैं तो न सिर्फ आप कमरे के पूरे स्पेस का लाभ उठा सकेंगे साथ ही इसे एक आकर्षक और अलग लुक भी दे सकेंगे।

emi_calculator
advertiesment